Skip to content

IHRBC activities in Madhya Pradesh

आज ओरछा में कंचना घाट पर हम सबने श्रमदान किया । बेतवा नदी के किनारे स्थित कंचना घाट ओरछा का सबसे महत्वपूर्ण घाट है, इसी घाट के किनारे ओरछा के तत्कालीन राज परिवार की याद में बनाई गई छतरी हैं । अभी हाल के कुछ महीनों में यहां पर बोट क्लब शुरू किया गया है । रविवार के दिन हजारों की तादाद में लोग अपने परिवार के सहित यहां आते हैं और अपने साथ घर से निकली पूजा की सामग्री , खाने पीने के सामान, प्लास्टिक की बोतलें लेकर साथ में आते हैं और नदी के किनारे घाट पर छोड़ जाते हैं । बेतवा नदी जो अपने प्रवाह के लिए विशिष्ट पहचान रखती है, लोगों द्वारा फैलाई जा रही गंदगी के कारण अब कचरे से पट रही है इसको देखते हुए पिछले दिनों देशभर से आए सामाजिक कार्यकर्ताओं के सामने लिए गए संकल्प के आधार पर यहां हर रविवार को श्रमदान करने का अभियान शुरू हुआ है । आज हम और हमारे साथियों ने घाट की सफाई करते समय जो छोटे बच्चे साथ में आते हैं उनके डायपर एवं प्लास्टिक के गंदगी को साफ किया लेकिन यह तो मात्र एक सांकेतिक प्रयास है जब तक समाज खुद अपने स्तर पर जागरूक नहीं होगा तब तक नदी मैं होने वाली गंदगी नहीं रुकेगी लेकिन नदी घाटी संगठन के लोगों ने संकल्प लिया है कि वह ओरछा में लगातार लोगों को नदी में गंदगी ना फेंकने के प्रति जागरूक करते रहेंगे ।

👆Sanjay Singh and his team cleaning the ghat along Betwa river in Orchha. This is an activity they undertake every Sunday. He is making an appeal to keep the ghat and the river clean. The ghat has developed as a tourist spot and the people need to manage their waste when’s they visit

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *