Skip to content

विरासत स्वराज यात्रा 2022 – जलपुरुष राजेंद्र सिंह बने बाढ़ – सुखाड़ विश्व जनआयोग के अध्यक्ष

स्थान – केटीएच विश्वविद्यालय ,स्वीडन
_______
2 सितंबर 2022 को विरासत स्वराज यात्रा स्वीडन के सबसे बड़े टेक्नोलॉजी विश्वविद्यालय केटीएच में रही । *इस सरकारी संस्थान में यहां के विशेषज्ञों के साथ “बाढ़ और सुखाड़ विश्व जनआयोग” की शुरुआत की गई।*सभी विशेषज्ञों ने सर्वसम्मति से *भारत के जलपुरुष राजेंद्र सिंह जी को इस आयोग की अध्यक्षता करने व परिषद का गठन करने की जिम्मेदारी सौंपी।*
इस जनआयोग में दुनियाभर से 15 कमिश्नर, 100 से अधिक वैज्ञानिक, विषय विशेषज्ञ और दुनिया में अच्छे काम करने वाले लोग शामिल होंगे।

इन लोगो को जोड़ने का कार्य प्रो. आशुतोष तिवारी करेंगे। बाढ़ और सुखाड़ प्रभावित देशों के *प्रतिनिधियों का समन्वय बनाने का कार्य राजेंद्र सिंह के साथ मिलकर सोमालिया के महोम्मद हसन,महोम्मद मुस्तफा, ऋषभ खन्ना करेंगे।*

यह *जनआयोग विश्वभर में बाढ़ और सुखाड़ मुक्ति का काम करने वाले लोगों को ढूंढने व जोड़ने का कार्य करेगा।*
अगले दो महीनों में विश्व जनआयोग के गठन की प्रक्रिया पूर्ण कर ली जाएगी और इसकी परिषद बनने के लिए 3 महीने व विश्व की जन परिषद बनने का कार्य 6 महीने में पूरा होगा। यह जन आयोग एक दशक तक कार्य करेगा।
इस दौरान प्रो.आशुतोष तिवारी,महोम्मद मुस्तफा, महोम्मद हसन ने भी अपने विचार रखे और इस बाढ़ – सुखाड़ जनआयोग को इतिहासिक कदम बताया।
अंत में जलपुरुष राजेंद्र सिंह जी ने सभी को धन्यवाद दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *